.

मुजफ्फरपुर के राम्लीलागाची मे चार लड़कियों ने मिलकर अपना न्यूज़ चैनल शुरू किया है । इनका कहना है कि बडे-बडे चैनल देश-दुनिया कि खबर दिखाते है लेकिन हमारे गाव की जो समस्याएँ है उनपर किसी का ध्यान नही जाता , इसलिये हमने सोचा कि अपना चैनल शुरू किया जाये। सच मे जहाँ बडे-बडे चैनल अपने हाथ खडे कर देते है, वहाँ लड़कियों का ये प्रयास काबिले तारीफ है।
इन लड़कियों के पास कोई ओबी वैन नही है, न कोई तेज रफ़्तार की गाड़ी है और न ही बहुत सारे कैमरे और रिपोर्टर्स । और तो और गाँव मे न तो बिजली रहती है और न ही लोगो के घर मे केबल कनेक्शन की पहुच है । ये लड़कियां सायीकल पर केमरा, माईक और बाक़ी चीज़ लेकर निकलती है और दिनभर न्यूज़ इकट्ठा कर शाम को सबसे ज्यादा भीड़ वाले इलाके मे प्रोजेक्टर पर दिखाती है । शुरू-शुरू मे तो इनका बहुत विरोध हुआ लेकिन लड़कियों कि लगातार कोशिशो कि बदौलत उनका ये अप्पन समाचार आज खासा पोपुलर होता जा रहा जा रहा है । खबर मिलने के बाद मैंने इसकी चर्चा दिल्ली मे लोगो से कि तो उन्हें भी बहुत हैरानी हुई । सफर के सेक्रेटरी राकेश सिंह ने उत्साह जताते हुये बताया कि दिसम्बर २२ से ३० तक बिहार मे जो वर्कशॉप हो रहा है , उसमे लोकल खबरों को कवर करने कि ट्रेनिंग दी जायेगी । वहाँ के बच्चे पहले से ही कोम्मुनिटी प्रोपर्टी को लेकर फिल्म बना रहे है । सफर खुद भी सामुदायिक टीवी चैनल शुरू करने जा रहा है ।
मुख्यधारा के बरक्स इस तरह के प्रयास पत्रकारिता को सही अर्थो मे स्थापित कर सकेंगे । बिहार कि इन लड़कियां को ढेर सारी शुभ काम नाएं ......

* SAFAR : वैकल्पिक मीडिया के लिये लगातार काम करनेवाला संगठन है .
| edit post
0 Response to 'बिहार मे अप्पन समाचार: लड़कियों ने शुरू किया चैनल'

टिप्पणी पोस्ट करें